पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना – 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana | पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन | दीनदयाल उपाध्याय हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन

यूपी की सरकार ने अपने राज्य के कर्मचारियों और पेंशनर्स का विशेष ध्यान रखते हुए पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 की शुरुआत की है, जिसके अंतर्गत उत्तर प्रदेश के कर्मचारी एवं पेंशनर्स को कैशलेस इलाज की सुविधा दी जाएगी। अगर आप यूपी के कर्मचारी या पेंशनर है तो आज का यह लेख आपके लिए बेहद ही जरूरी होने वाला है क्योंकि आज हम आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां देने वाले है। 

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना

आज हम आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना क्या है, इसके लिए जरूरी पात्रता, राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना में लगने वाले दस्तावेज, योजना की विशेषताएं, इस योजना के द्वारा मिलने वाले State Health Card के लाभ और इस योजना के लिए आवेदन हेतु ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया के बारे में बताने वाले है इसलिए आप इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें। 

UP पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022

इस योजना की शुरुआत यूपी के सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को लाभ पहुँचाने हेतु की गई है। यूपी पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा, उत्तर प्रदेश के सभी सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को 5,00,000 लाख रूपयों तक के कैशलेस इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी। यूपी की सरकार अपने सभी कर्मचारी और पेंशनर्स के लिए ऑनलाइन सुविधा के माध्यम से यूपी स्टेट हेल्थ कार्ड (State Health Card) बनवाएगी। इस हेल्थ कार्ड को State Agency For Health Integrated Services द्वारा बनवाया जाएगा। 

इस योजना के अंतर्गत इसका लाभ उत्तर प्रदेश के सरकारी चिकित्सा संस्थान, प्राइवेट अस्पताल और मेडिकल कॉलेज के माध्यम से दिया जाएगा। इस योजना के माध्यम से यूपी के राज्य कर्मचारी और पेंशनर तथा उनके आश्रितों के इलाज का खर्च सरकार द्वारा दिया जाएगा ताकि वे अपनी जरूरत के अनुसार सरकारी या प्राइवेट अस्पतालों से अपना इलाज करा सकें। यूपी सरकार द्वारा हेल्थ कार्ड बनवाने का मुख्य उद्देश्य अपने प्रदेश के कर्मचारियों को आत्मनिर्भर बनाना है ।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana Overview 2022

योजना का नामपंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यकैशलेस उपचार की सुविधा उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
साल2022
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन
राज्यउत्तर प्रदेश
यूपी सरकार आधिकारिक वेबसाइटhttps://up.gov.in/

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के बेनिफिट (लाभ)

  • इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों का हेल्थ कार्ड बनवाया जाएगा।
  • आयुष्मान भारत योजना के तहत प्राइवेट अस्पतालों में इलाज करा रहे लाभार्थियों को भी इस योजना का फायदा मिलेगा।
  • लाभार्थी उत्तर प्रदेश के किसी भी मेडिकल कॉलेज, सरकारी चिकित्सा संस्थान या फिर प्राइवेट अस्पताल के माध्यम से इन योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा यूपी के राज्य कर्मचारियों और पेंशनर को 5 लाख रुपयों तक की कैशलेस इलाज की सुविधा दी जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से लाभार्थी सरकारी तथा निजी दोनों अस्पतालों से अपना इलाज करवा सकते है , जिसका पूरा खर्च राज्य की सरकार उठाएगी।
  • राज्य सरकार द्वारा , यूपी के सरकारी कर्मचारियों एवं उनके परिवारों को कैशलेस इलाज की सुविधा कॉरपस फण्ड के द्वारा किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत लाभार्थियों को लाभ पहुंचाने के लिए चिकित्सा संस्थान, राज्य के मेडिकल कॉलेजों आदि को अग्रिम धनराशि देने के लिए 200 करोड़ रुपयों का एक कॉरपस शिक्षा चिकित्सा विभाग भी निर्मित किया गया है, जहाँ पर प्रथम किश्त के रूप में 50 फीसदी की अधिकतम अग्रिम राशि मुहैय्या करवाई जाएगी।
  • दी गई इस अग्रिम धनराशि की उपयोगिता का प्रमाण पत्र देने के बाद , इन्हें अगली किश्त उपलब्ध करवा दी जाएगी।
  • अनुमान लगाया जा रहा है कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना से उत्तर प्रदेश के 30 लाख से भी अधिक लोगों को लाभ प्राप्त होगा।
  • चिकित्सा शिक्षा विभाग के द्वारा मेडिकल कॉलेजो और चिकित्सा संस्थानो के लिए 200 करोड़ रुपये एवं यूपी के जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ रुपयों का कॉरपस निर्मित किया गया है।
  • आपको बताना चाहेंगे कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत यूपी के राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को कैशलेस इलाज की सुविधा देने के साथ ही साथ वर्तमान व्यवस्था के हिसाब से इलाज हो जाने के बाद की प्रतिपूर्ति किये जाने का भी ऑप्शन भी दिया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से मिलने वाले लाभ से राज्य के कर्मचारी और पेंशनर्स के परिवारों को स्वास्थ्य से संबंधित सुविधाओं का लाभ प्राप्त हो सकेगा ताकि प्रदेश के नागरिक किसी भी प्रकार की गंभीर बीमारी होने से चिंता मुक्त होकर अपना इलाज करवा सके।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा लाभार्थियों को बीमारियों के इलाज के लिए निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा प्राप्त हो सकेगी। 

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लिए पात्रता

  • उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी। 
  • इस योजना के अंतर्गत यूपी के सरकारी कर्मचारी, पेंशनर्स और उनके आश्रित ही इस योजना की सुविधा लेने के पात्र होंगे।

आवश्यक दस्तावेजों की सूची

  • लाभार्थी का आधारकार्ड 
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ
  • उम्र प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आवेदन करने वाले का ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटो 

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लिए ऑनलाइन अप्लाई

अगर आप भी इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करके सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं का लाभ उठाना चाहते है तो अभी आपको थोड़ा इंतज़ार करना होगा क्योंकि अभी राज्य सरकार द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 (Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2022) की सिर्फ घोषणा की गई है लेकिन उम्मीद है कि बहुत जल्द ही इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा शुरू कर दी जाएगी। 

सरकार द्वारा इस योजना में पंजीकरण करने के लिए जैसे ही कोई सूचना आएगी इसकी जानकारी हम आपको अपने लेख में अपडेट करके जरूर बता देंगे।  

Conclusion

आज के इस आर्टिकल में हमनें आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियां देने की कोशिश की है। उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। 

FAQ: पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022

प्रश्न 1. यूपी सरकार द्वारा इस योजना को लागू करने का आदेश कब दिया गया था?

उत्तर: उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा इस योजना को लागू करने का आदेश 7 जनवरी 2022 को ही जारी कर दिया गया है।

प्रश्न 2. क्या यह योजना यूपी के आम नागरिकों के लिए है?

उत्तर: जी नही ! यह योजना सिर्फ यूपी के राज्य कर्मचारियों, पेंशनर्स और उनके आश्रितों के लिए है।

1 thought on “पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना – 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन”

  1. क्या यह योजना, ,सहायता प्राप्त माध्यमिकविद्यालयों से सेवा निवृत्त पेंशनर्स के लिये भी है?वो भी राजकोष से ही पेंशन पाते हैं।

    Reply

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!